Friday, 11 October 2013

कष्ट हरो माँ


    कष्ट हरो आनंद भरो    
    तेजोमय हमें करो माँ      
   व्यथा मिटाओ जीवन के  
मुझे अभय करो माँ

समग्र अँधियारा मिटे
ज्योतिर्मय हो जीवन
ऐकिक पथ एकनिष्ठ
संशय दूर करो माँ

तजूं कुसंग, सत्संग गहूँ
शूलों में   बन सुमन रहूँ
मन से मेरे माया हरो
मुझे निर्बंध करो माँ

अनीति से लड़ने की शक्ति
राम का बल, कृष्ण नीति
सर्वत्र मैं तुम्हीं को देखूं
ऐसी भक्ति भरो माँ .

..... नीरज कुमार ‘नीर’
#neeraj_kumar_neer 

17 comments:

  1. आपकी लिखी रचना की ये चन्द पंक्तियाँ.........
    अनीति से लड़ने की शक्ति
    राम का बल, कृष्ण नीति
    सर्वत्र मैं तुम्हीं को देखूं
    ऐसी भक्ति भरो माँ .
    शनिवार 12/10/2013 को
    http://nayi-purani-halchal.blogspot.in
    को आलोकित करेगी.... आप भी देख लीजिएगा एक नज़र ....
    लिंक में आपका स्वागत है ..........धन्यवाद!

    ReplyDelete
    Replies
    1. आभार आपका यशोदा जी

      Delete
  2. निश्चय ही प्रार्थना पूरी हो, नवरात्रि की शुभकामनायें।

    ReplyDelete
  3. बहुत सुन्दर प्रार्थना | नवरात्रि की शुभकामनायें।

    मेरी नई रचना :- मेरी चाहत

    ReplyDelete
  4. kashta haro aanand bharo ma ,achchi prathna hai

    ReplyDelete
  5. बढिया प्रार्थना , नवरात्रि की शुभकामनाएं |
    लेटेस्ट पोस्ट नव दुर्गा

    ReplyDelete
  6. नीरज कुमार जी,
    माता रानी की बहुत ही भावपुर्ण रचना है आपकी,बहुत ही सुन्दर,नवरात्रि की हार्दिक शुभकामनायें आपको...

    ReplyDelete
  7. अनीति से लड़ने की शक्ति
    राम का बल, कृष्ण नीति
    सर्वत्र मैं तुम्हीं को देखूं
    ऐसी भक्ति भरो माँ ,,,

    सुंदर अभिव्यक्ति...!
    नवरात्रि की शुभकामनाएँ ...!

    RECENT POST : अपनी राम कहानी में.

    ReplyDelete
  8. आज की विशेष बुलेटिन जेपी और ब्लॉग बुलेटिन में आपकी इस पोस्ट को भी शामिल किया गया है। सादर .... आभार।।

    ReplyDelete
  9. आज की विशेष बुलेटिन जेपी और ब्लॉग बुलेटिन में आपकी इस पोस्ट को भी शामिल किया गया है। सादर .... आभार।।

    ReplyDelete
  10. प्रार्थना बहुत पसंद आई...नवरात्रि‍ की शुभकामनाएं;.

    ReplyDelete
  11. नवरात्रि पर सुंदर प्रार्थना । शुभ नवरात्रि।

    ReplyDelete
  12. निश्चय ही प्रार्थना पूरी हो, यही कामना है .
    नई पोस्ट : मंदारं शिखरं दृष्ट्वा
    नई पोस्ट : प्रिय प्रवासी बिसरा गया
    नवरात्रि की शुभकामनाएँ .

    ReplyDelete
  13. आमीन ... मात्री चरणों में वंदन स्वीकार हो ...
    दशहरा की मंगल कामनाएं ...

    ReplyDelete
  14. बहुत सुन्दर .

    ReplyDelete

आपकी टिप्पणी मेरे लिए बहुत मूल्यवान है. आपकी टिप्पणी के लिए आपका बहुत आभार.

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...